भ्रष्टाचार का खेल : रतलाम में भी खेल सामग्री खरीदी में अनियमित्ता, जिला शिक्षा केंद्र पर तैनात कर्मचारियों में हड़कंप

भ्रष्टाचार का खेल : रतलाम में भी खेल सामग्री खरीदी में अनियमित्ता, जिला शिक्षा केंद्र पर तैनात कर्मचारियों में हड़कंप

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
सरकारी स्कूलों में खेल सामग्री खरीदी में अनियमित्ता का खेल होने पर झाबुआ कलेक्टर सोमेश मिश्रा द्वारा 3 सप्लाय फर्म को ब्लैक लिस्टेड के साथ 2 बीआरसी और 6 जनशिक्षकों को निलंबित की कार्रवाई पश्चात रतलाम जिला मुख्यालय पर हड़कंप व्याप्त है। हड़कंप के पीछे प्रमुख कारण यह है कि मापदंडो के विपरित जनशिक्षा केंद्र के कर्मचारियों ने दबाव बनाकर बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार को अंजाम दिया। जिला प्रशासन के मुखिया कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम को मामला संज्ञान में है और जल्द ही स्कूली बच्चों की खेल सामग्री खरीदने में घोटाले करने वालों पर कार्रवाई के साथ नाम उजागर होना तय है।
राज्य शिक्षा केंद्र से जिले में संचालित प्राथमिक, माध्यमिक, हाईस्कूल एवं हायरसेकंडरी शालाओं में खेल सामग्री क्रय के लिए अलग-अलग राशि स्वीकृत की थी। डेढ़ माह से जारी सामग्री खरीदने के इस खेल को रतलाम जिला शिक्षा केंद्र में पदस्थ कर्मचारियों ने खेलना शुरू कर दिया। भंडार क्रय नियमों के अतिरिक्ति खेल उपकरणों को खरीदने के लिए जारी विस्तृत दिशा निर्देश के विपरित शासन की राशि को ऐंठने के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारी से लेकर कर्मचारियों की संलिप्ता है। रतलाम जिला मुख्यालय पर शासन के आदेश के विपरीत खंड स्त्रोत समन्वयकों की भूमिका बड़े पैमाने पर संदिग्ध है। उक्त प्रकरण कलेक्टर पुरुषोत्तम को भी संज्ञान में है। सूत्रों के अनुसार कलेक्टर पुरुषोत्तम ने शासकीय स्कूलों में खरीदी गई और खरीदी जा रही नियम विपरित खेल सामग्री की जांच अपने स्तर पर शुरू करवा दी है। संभावना है कि जल्द ही शासन की आवंटित राशि के विपरित मिलीभगत कर खरीदी गई गुणवत्ताहीन खेल सामग्रियों को लेकर कार्रवाई के साथ जिले के बीआरसी और अन्य अधिकारी-कर्मचारियों के नाम उजागर होंगे।
झाबुआ कलेक्टर ने जांच में इन्हें पाया दोषी
झाबुआ कलेक्टर सोमेश मिश्रा ने खेल सामग्री खरीदी में बरती अनियमित्ता पर जांच प्रतिवेदन के आधार पर झाबुआ विकासखंड में पदस्थ बीआरसी देवीसिंह जमुनिया, थांदला विकासखंड के बीआरसी रामबिहारी रामपुरिया सहित पेदलावद जनपद शिक्षा केंद्र के दो जनशिक्षक विजयकुमार बारिया, सुनीलकुमार गुप्ता, झाबुआ के दो जनशिक्षक अमरसिंह बारिया, मुकामसिंह बघेल एवं जनपद शिक्षा केंद्र मेघनगर के जनशिक्षक जसवंतसिंह नायक और अमरसिंह भूरिया को मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 3 (1) अंतर्गत दोषी पाते हुए तत्काल प्रभाव से निलंबन की कार्रवाई की।
जिम्मेदार के पास नहीं जवाब
शासन के निर्देश पश्चात एसएमसी की जवाबदेही है कि वह खेल सामग्री खरीदी में नियमों का पालन कर रहा है या नहीं। मैं पूरे प्रकरण में अनभिज्ञ हूं क्योंकि मुझे जानकारी नहीं दी जाती है। – केसी शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी-रतलाम

खेल सामग्री खरीदी में नियमों का पालन किया जा रहा है। दबाव को लेकर जानकारी नहीं है। – मोहनलाल सांसरी, डीपीसी जिला शिक्षा केंद्र रतलाम

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.