शहीद दिवस : एमआर यूनियन ने किया क्रांतिकारियों को नमन, गोष्ठी के माध्यम से बयां की मौजूदा स्थिति

शहीद दिवस : एमआर यूनियन ने किया क्रांतिकारियों को नमन, गोष्ठी के माध्यम से बयां की मौजूदा स्थिति


रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज।
एमआर (मेडिकल रिप्रजेंटेटिव) यूनियन ने बुधवार को शास्त्रीनगर स्थित कार्यालय पर अमर शहीद भगतसिंह, सुखदेव और राजगुरु को याद कर शहादत को नमन किया। साथ ही सभी साथियों से आगामी 28 और 29 मार्च की हड़ताल सफल बनाने की अपील की।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कामरेड अश्विनी शर्मा ने की। श्री शर्मा ने कहा कि भगतसिंह नहीं रहे लेकिन सांडर्स आज भी देश में अराजकता और भ्रष्टाचारी के रूप में घूम रहे हैं। आज के समय में भगतसिंह की जरुरत विषय पर आयोजित गोष्ठी में उन्होंने कहा कि यह लड़ाई तब तक चलती रहेगी, जब तक देश की जनता और श्रमिकों की आय के साधनों पर शक्तिशाली व्यक्तियों का एकाधिकार रहेगा। मुख्य वक्ता कामरेड आईएल पुरोहित ने शहीद भगतसिंह के विचारों को विस्तृत से सभी के समक्ष रखा। उन्होंने बताया कि 23 मार्च को शहीद ए आजम भगतसिंह के 92वें शहादत दिवस पर देश में वैसी ही परिस्थितियां बन गई है जैसी अंग्रेजी गुलामी के दौर में थी। एलआईसी यूनियन के कामरेड प्रियेश शर्मा ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। उन्होंने कहा की क्रांति के लिए खूनी लडाईयां अनिवार्य नहीं है और ना ही उसमें व्यक्तिगत हिंसा के लिए कोई स्थान है। क्रांति से हमारा अभिप्राय है अन्याय पर आधारित मौजूदा समाज व्यवस्था में आमूल परिवर्तन। सभा को आंगनवाड़ी यूनियन की कामरेड कृष्णा सोनगरा ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन हरीश सोनी ने किया एवं आभार अभिषेक जैन ने माना।


गोष्ठी में यह थे प्रमुख रूप से मौजूद
इस अवसर पर एलआईसी यूनियन से रमेश मीना तथा एमआर यूनियन के कामरेड रशीद खान, उमेश पंवार, अरुण सिंह, प्रशांत पाठक, अमित कुमार, आशिष आचार्य, मनोज असाटी, सौरभ पाठक आदि उपस्थित थे.

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.