24.7 C
Ratlām
Tuesday, July 23, 2024

अधिकारियों पर बरसे कलेक्टर : कार्यों में लेतलाली नहीं होगी बर्दाश्त, कॉलोनियों की शिकायत पर फाइल देरी से प्रस्तुत करने पर अधिकारी से सवाल जवाब, प्राचार्य, सीएमओ सहित कार्यपालन यंत्री को शोकाज नोटिस

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
समय सीमा पत्रों की समीक्षा बैठक कलेक्टर नरेंद्र कुमार सूर्यवंशी द्वारा सोमवार प्रातः ली गई। कलेक्टर द्वारा कई विभागों के कार्यों में लेतलाली को लेकर अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर की। साथ ही शोकाज नोटिस जारी करने को कहा। कॉलोनियों की शिकायत में फाइल देरी से प्रस्तुत करने पर शहरी विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी पाठक से भी सवाल जवाब करते हुए तत्काल फाइल प्रस्तुत करने को कहा। कलेक्टर ने सभी एसडीएम को दो टूक कहा कि कॉलोनियों की अनुमति के संबंध में कोई भी गड़बड़ बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

बैठक में कलेक्टर द्वारा जावरा में 4 कॉलोनियों की शिकायत के संबंध में समीक्षा के दौरान शहरी विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी पाठक को निर्देशित किया कि वह फाइल प्रस्तुत करने में देरी क्यों कर रहे हैं, तत्काल फाइल प्रस्तुत करें। कलेक्टर ने कहा कि रतलाम ग्रामीण क्षेत्र में भी कॉलोनियों के संबंध में शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। राजस्व अधिकारी को निर्देशित किया कि बगैर देरी किए कार्रवाई की जाना है। इसके साथ ही कलेक्टर ने सभी एसडीएम को निर्देशित किया कि कॉलोनियों की अनुमति के संबंध में कोई भी गड़बड़ बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कॉलोनाइजर के पास कलेक्टर द्वारा प्रदत्त अनुमति होना चाहिए। कलेक्टर ने करमदी में विकसित की जा रही कॉलोनी की भूमि की जांच के निर्देश भी शहर तहसीलदार चौकोटिया को दिए।

गोल्ड पार्क के लिए चिन्हित भूमि से हटेगा अतिक्रमण
कलेक्टर ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में लंबित शिकायतों के लिए समीक्षा में जिले के सभी राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि मंगलवार तक उनकी कुल 525 शिकायतों में से 350 शिकायतों का निराकरण अंतिम रूप से कर दिया जाए। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि रिडेंसिफिकेशन कार्य के तहत रतलाम शहर में निर्मित किए जाने वाले गोल्ड पार्क के लिए चिन्हित भूमि से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शहर तहसीलदार तत्काल करें। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिड़े तथा जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

अधिकारी के खिलाफ शासन को लिखा जाएगा
मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में ऊर्जा विभाग की ज्यादा शिकायतों पर भी तत्काल निराकरण के निर्देश दिए गए। कई विभागों की शिकायतों की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने स्पष्ट कहा कि यदि संभागीय अधिकारियों द्वारा सीएम हेल्पलाइन निपटारे में देर की जाती है तो उनके विरुद्ध भी शासन को लिखा जाएगा, उनको समय सीमा पत्रों की समीक्षा बैठक में भी बुलाया जाएगा। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि मंगलवार शाम तक सभी विभाग अधिकाधिक शिकायतों का निराकरण करके ए ग्रेड लाएं। जिले के आकांक्षी विकासखंड बाजना की प्रगति की समीक्षा में कलेक्टर ने निर्देशित किया कि 17 नवंबर तक विकासखंड की प्रगति दिखना चाहिए। जनसुनवाई में 1404 आवेदन लंबित है। उक्त आवेदनों के निपटारे में देरी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कलेक्टर ने एक सप्ताह में जनसुनवाई आवेदनों के निराकरण में प्रगति लाने के निर्देश दिए।

कार्यपालन यंत्री पीके गोगादे के प्रति सख्त नाराजगी
ग्राम सेजावता में प्रदूषित पानी की खबर पर कलेक्टर ने संज्ञान लेते हुए कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग पीके गोगादे के प्रति सख्त नाराजगी व्यक्त की। कलेक्टर ने सख्ती से निर्देशित किया कि लोक निर्माण विभाग पानी की जांच कराकर शीघ्र-अतिशीघ्र रिपोर्ट देवे। इसके लिए जांच टीम बुलाएं। इसी प्रकार सैलाना के एकलव्य आवासीय परिसर स्कूल में पानी से संबंधित समस्या आने पर कलेक्टर ने संबंधित प्राचार्य के विरुद्ध शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। साथ ही उनका एक दिन का वेतन भी काटने के लिए निर्देशित किया। इसके साथ ही सैलाना सीएमओ को भी शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि जिला स्तर पर सूचना में देरी क्यों की गई।

निर्माण कार्यो के दे सूची
बैठक में कलेक्टर द्वारा सभी निर्माण विभाग को निर्देशित किया गया कि उनके द्वारा पूर्ण किए गए अथवा संचालित किए जाने वाले निर्माण कार्यों की सूची देवें। आगामी दिनों मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के करकमलों से भूमिपूजन, लोकार्पण कार्यक्रम संभावित है।

हर एक घटना संज्ञान में लाए
कलेक्टर ने खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के साथ ही समस्त अनुविभागीय अधिकारियों राजस्व को भी निर्देशित किया कि खाद्य पदार्थों में मिलावट के विरुद्ध जिले में प्रभावी कार्रवाई की जाए। जिले के सभी एसडीएम को निर्देशित किया गया कि कोई भी छोटी से छोटी घटना जिला स्तर पर कलेक्टर के संज्ञान में लाने में देरी नहीं की जाए अन्यथा की स्थिति में जिम्मेदार एसडीएम होंगे।

जिला शिक्षा अधिकारी से पूछा देरी क्यों की जा रही
कलेक्टर ने सिमलावदा स्कूल भवन निर्माण पूर्ण होने पश्चात भवन हैंड ओवर करने में की जा रही देरी पर सख्त नाराजगी व्यक्ति की। इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी शर्मा से पूछा गया कि स्कूल भवन हैंड ओवर में लापरवाहीपूर्वक देरी क्यों की जा रही है। बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है, तत्काल हैंड ओवर की कार्रवाई करके बच्चों को नए भवन में पढ़ाई करवाई जाए। कलेक्टर ने अवैध शराब के विरुद्ध भी सख्ती से कार्रवाई के निर्देश सहायक आयुक्त आबकारी श्रीमती नीरजा श्रीवास्तव को दिए।

शासन विरोधी गतिविधि में लिप्त तो होगी कार्रवाई
कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिया कि अधिकारी, कर्मचारी ध्यान रखें कि उनके विभाग में कोई शासन विरोधी गतिविधियां संचालित नहीं हो। यदि कोई शासकीय सेवक शासन विरोधी गतिविधि में लिप्त पाए जाएगा तो उसके विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन एफआईआर दर्ज करवाएगा, अपराधिक प्रकरण कायम होगा।

बस में बैठ कर एक साथ जाएंगे अधिकारी
जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में खासतौर पर ट्राइबल क्षेत्रों में आमजनों की समस्याओं के परेशानियों के निराकरण के लिए कलेक्टर ने निर्देशित किया कि सभी अधिकारी जिले के सैलाना, बाजना तथा रतलाम ग्रामीण क्षेत्र के ट्राइबल क्षेत्रों में खासतौर पर सजगता से शासकीय योजनाओं कार्यक्रमों का क्रियान्वयन संवेदनशीलता रखते हुए करें। इस संबंध में कलेक्टर तथा जिला अधिकारी बस में बैठकर प्रत्येक 15 दिवस में किसी आदिवासी विकासखंड में पहुंचकर कैंप करेंगे, उनकी समस्याओं का निरीक्षण करेंगे।

KK Sharma
KK Sharmahttp://www.vandematramnews.com
वर्ष - 2005 से निरंतर पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय। विगत 17 वर्ष में सहारा समय, अग्निबाण, सिंघम टाइम्स, नवभारत, राज एक्सप्रेस, दैनिक भास्कर, नईदुनिया (जागरण) सहित अन्य समाचार पत्र और पत्रिकाओं में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन किया। पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय रहते हुए वर्तमान में समाचार पोर्टल वंदेमातरम् न्यूज में संपादक की भूमिका का दायित्व। वर्तमान में रतलाम प्रेस क्लब में कार्यकारिणी सदस्य। Contact : +91-98270 82998 Email : kkant7382@gmail.com
Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network