अधिकारी, कर्मचारी काम बंद-कलम बंद हड़ताल पर, ग्रामीण विकास के कामकाज ठप्प

अधिकारी, कर्मचारी  काम बंद-कलम बंद हड़ताल पर, ग्रामीण विकास के कामकाज ठप्प

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
मप्र पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के संयुक्त मोर्चाे के तत्वाधान में अनिश्चितकालीन काम बंद – कलम बंद हड़ताल चल रही हैं। हड़ताल के कारण ग्राम पंचायतों से जुड़े कामकाज ठप्प हो गए हैं।
हड़ताल के पांचवे दिन सोमवार को संयुक्त मोर्चा द्वारा रतलाम ग्रामीण विधायक दिलीप मकवाना को रतलाम स्थित कार्यालय एवं जिला पंचायत प्रधान प्रमेश मईड़ा को जिला पंचायत कार्यालय में मांगों के निराकरण का ज्ञापन सौपा गया।

जिला पंचायत प्रधान प्रमेश मईड़ा को ज्ञापन सौपते कर्मचारी।

इस दौरान कर्मचारियों ने जमकर नारेबाजी की। ज्ञापन का वाचन कमलेश पापरीवाल द्वारा किया गया। इस दौरान सुजीत मालवीय, भुपेन्द्रसिंह, सुशील आर्य, कमलसिंह, संजय शर्मा, हिमांशु शुक्ला, ईश्वर मालवीय, नाथुलाल वाघेला, महेश जाट, समरथ सिन्हा, श्यामलाल बलसोरा, रतन सिसोदया, शंकर गुर्जर, गोपाल जाट सहित जिला, जनपद पंचायत एवं ग्राम पंचायतों के समस्त ग्रामीण विकास विभाग के कर्मचारी उपस्थित रहें।
19 जुलाई से जारी है हड़ताल
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत सचिव ग्राम रोजगर सहायक एवं विभिन्न योजनाओं स्वच्छ भारत मिशन, मनरेगा, एनआरएलएम, वाटरशेड सहित समस्त योजनाओं में कार्यरत संविदा अधिकारी, कर्मचारी नियमितीकरण सहित विभिन्न मांगों को लेकर 19 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है। हड़ताल में समस्त संगठनों के प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं।

आलोट में भी की नारेबाजी

आलोट में नारेबाजी करते कर्मचारी।

आलोट में भी कर्मचारियों ने नारेबाजी कर अपनी मांगों के निराकरण के लिए आवाज बुलंद की। इस दौरान सचिव संघ के ब्लॉक अध्यक्ष संजय दवे, कमलसिंह डोडिया, शंकरलाल चौहान, लोकेन्द्रसिंह, मनोहर सिंह देवड़ा, जगदीश शर्मा, ईश्वरलाल पाटीदार, कीर्ति राव जाधव, ग्राम रोजगार सहायक संघ के घनश्याम प्रजापत, संजय दांगी, रघुवीर सिंह परिहार, महेंद्र परमार, प्रहलाद रावल, मनरेगा के संदीप मंडलोई, मनीष लालावत, राकेश जाटवा, इंजीनियर संघ के कमलेश गौर, नीलेश मालवीय, एनआरएलएम के दिनेश मैडा, अमित, एसबीएम के अवधसिंह अहिरवार, भरत मेवाड़ा, रवि शर्मा, अर्जुन शर्मा आदि उपस्थित थे।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.