24.3 C
Ratlām
Saturday, August 13, 2022

डॉ. शिवशक्तिलाल शर्मा आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज : छात्र ने की खुदकुशी, कॉलेज और पुलिस प्रशासन ने परिजन को नहीं दी सूचना, देर रात जिला अस्पताल में हंगामा

रतलाम, वन्देमातरम् न्यूज। 
रतलाम के डॉ. शिवशक्तिलाल शर्मा आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के छात्र ने फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। कॉलेज और पुलिस प्रशासन की ओर से छात्र की मौत की सूचना नहीं देने पर नाराज परिजन ने शनिवार रात 12 बजे जिला अस्पताल पहुंच जमकर हंगामा किया। डॉ. शिवशक्तिलाल शर्मा आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज पर मृतक छात्र के परिजन ने फीस और फाइन का दबाव बनाने का गंभीर आरोप भी लगाया। छात्र के आत्महत्या वाले कमरे से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसके संबंध में पुलिस अनभिज्ञता जता रही। नाराज परिजन ने कॉलेज और पुलिस प्रशासन के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए।
डॉ. शिवशक्तिलाल शर्मा आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज का छात्र संदीप परमार पिता अशोक परमार (24) निवासी शुजालपुर जिला शाजापुर ने आत्महत्या सैलाना रोड स्थित किराए के मकान में की है। संदीप बीएएमएस अंतिम वर्ष की पढ़ाई कर रहा था। 11 जुलाई को उसकी परीक्षा थी। शनिवार सुबह करीब साढ़े दस बजे उसका रूम पार्टनर कॉलेज गया था। संदीप उस वक्त कमरे में ही था। देवेंद्र शाम करीब पांच से साढ़े पांच बजे के बीच रूम पर लौटा तो अंदर से दरवाजा बंद था। आवाज देने पर भी दरवाजा नहीं खोला गया। तब उसने पड़ोस के लोगों को बुलाया। जब खिड़की से झांककर कमरे के भीतर देखा तो संदीप पंखे के हुक से बंधी रस्सी के फंदे से लटका हुआ नज़र आया । घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर पुलिस घटनस्थल पर पहुंची। दरवाजा तोड़कर जांच की और शव उतरवाकर जिला अस्पताल भिजवाया गया। पुलिस को उसके पास से सुसाइड नोट भी मिला है।
वंदेमातरम् न्यूज के सूत्रों के अनुसार मौत को गले लगाने से पहले उक्त सुसाइड नोट में संदीप ने कॉलेज प्रशासन पर फाइन वसूली का जिक्र किया है। मृतक ने अपने मामा के नाम सुसाईड नोट लिखा।

देखे रात का Exclusive वीडियो

अस्पताल में रात 12 बजे हंगामा
छात्र की मौत की सूचना छात्र के मित्रों ने परिजन तक पहुंचाई। रात करीब 12 बजे परिजन रतलाम पहुंचे। इस दौरान परिजन काफी आक्रोशित नजर आए और उन्होंने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ जमकर आक्रोश जताया। मौके पर कॉलेज प्रशासन का एक कर्मचारी वीडियो भी बना रहा था। परिजन उक्त कॉलेज प्रशासन के कर्मचारी लोकेंद्र परमार को पहचान गए और उसे पीटने दौड़े। इस दौरान कॉलेज प्रशासन के कर्मचारी लोकेंद्र परमार को मौके से दौड़ लगाना पड़ी। वहां मौजूद छात्रों ने कॉलेज प्रशासन पर फीस व प्रताड़ित करने को लेकर गम्भीर आरोप भी लगाए। परिजनों ने कॉलेज के खिलाफ मामला दर्ज करने व छात्र की मौत के कारणों की जांच की मांग भी की।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

Latest Articles

error: Content is protected by VandeMatram News