30.2 C
Ratlām
Monday, July 22, 2024

दवा प्रतिनिधियों का प्रदर्शन : पिछले 8 सालों में न तो 8 घंटे का काम तय किया और न हीं न्यूनतम वेतन मिला

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।
मध्यप्रदेश छत्तीसगढ़ मेडिकल एन्ड सेल्स रिप्रेजेंटेटिव यूनियन के प्रदेश व्यापी आह्वान के तहत पूरे मध्यप्रदेश में प्रदर्शन किया गया। लेबर कमिश्नर के श्रम पदाधिकारियों को 5 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन रतलाम में श्रम निरीक्षक नलिनी कटारा को सौंपा गया।

मध्यप्रदेश की सरकार ने दवा प्रतिनिधियों के लिए 2016 अति कुशल श्रेणी में न्यूनतम वेतन तो घोषित दिया लेकिन पिछले 8 सालों में न तो 8 घंटे का काम तय और न ही पूरे मध्यप्रदेश के दवा प्रतिनिधियों को न्यूनतम वेतन मिलना सुनिश्चित किया गया। प्रादेशिक उपाध्यक्ष अश्विनी शर्मा ने बताया कि देश मे 9 राज्यो ने दवा प्रतिनिधियों को सेक्सन 2s का समावेश करते हुए उन्हें वर्क मैन की कैटेगरी में समायोजित कर दिया गया है, लेकिन मध्यप्रदेश के श्रम विभागों ने यह कार्य अभी तक नही किया है। ज्ञापन के माध्यम से श्रमायुक्त मध्यप्रदेश सरकार से मांग कि है कि केंद्र सरकार द्वारा चार श्रम संहिताओं को लागू न किया जाए।

इकाई उपाध्यक्ष अभिषेक जैन आगामी 19 सितंबर को इंदौर में पूरे मध्यप्रदेश से दवा प्रतिनिधि एकत्रित होकर धरना प्रदर्शन कर पदस्थ लेबर कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा जाएगा। अगर समस्याओं का जल्द से जल्द निराकरण नहीं होता है तो भोपाल पहुंचकर आंदोलन किया जाएगा।प्रदर्शन में प्रमुखरूप से अच्युतानंद सिंह, करन कुमार, प्रशांत पाठक, स्नेहिल मोघे, रसीद खान, संजय व्यास उपस्थित थे।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Copyright Content by VM Media Network