महाशिवरात्रि का उल्लास : शिवमय हुई धर्मनगरी, भोले की भक्ति में रमा शहर, गढ़ कैलाश महादेव की शाम को होगी महाआरती

महाशिवरात्रि का उल्लास : शिवमय हुई धर्मनगरी, भोले की भक्ति में रमा शहर, गढ़ कैलाश महादेव की शाम को होगी महाआरती

रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।

महाशिवरात्रि पर्व शहर में धूमधाम से मनाया जा रहा है। सुबह से शिवालयों में भक्तों का हुजूम उमड़ रहा है। शिवालयों में भगवान भोले का आकर्षक श्रंगार कर सजाया गया है। शिवालयों में अभिषेक दिनभर धार्मिक आयोजन होते रहे। रत्नपुरी के राजा श्री गढ़ कैलाश महादेव का विशेष श्रंगार किया गया। शाम को महाआरती होगी।
महाशिवरात्रि का पावन पर्व उत्साह और उमंगभरे माहौल में धूमधाम से मनाया गया। नगर के अति प्राचीन श्रीगढ़ कैलाश मंदिर पर हर साल की तरह इस बार बड़े पैमाने पर तीन दिवसीय धार्मिक आयोजन मनाया गया। श्री गढ़ कैलाश सेवा समिति ट्रस्ट अमृतसागर द्वारा तीन दिवसीय महाशिवरात्रि पर्व की शुरुआत 27 फरवरी से की गई। सोमवार को भजनों के आयोजन के साथ शाम को महाआरती का विशेष आयोजन पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी के मुख्य आतिथ्य में हुआ। तीसरे दिन सुबह 6 बजे भगवान श्रीगढ़ कैलाश का रुद्राभिषेक किया गया। गढ़ कैलाश मंदिर के ग्यारहवें कलश स्थापना महोत्सव की खुशी में विशाल फरियाली भंडारे के तहत महाप्रसादी वितरण का शुभारंभ सुबह 11.30 बजे से किया गया।
दुखों से छुटकारे की मनोकामना मांगी
शक्तिनगर स्थित बाबा महाकाल मंदिर पर महाशिवरात्रि पर दो दिवसीय आयोजन की धूम रही। मंदिर समिति के नवीन व्यास ने बताया महाशिवरात्रि पर महाआरती का आयोजन हुआ। बड़ी संख्या में मौजूद रहवासियों और भक्तों ने बाबा की आराधना कर सभी को दुखों से छुटकारे की मनोकामना मांगी। महाआरती से पूर्व सोमवार को भजनसंध्या का भी आयोजन किया गया था, जिसमे बड़ी संख्या में श्रद्धालुजन मौजूद हुए थे।

फोटो – महाआरती में मौजूद पूर्व गृहमंत्री हिम्मत कोठारी व अन्य।

सत्यम्‌-शिवम्‌-सुंदरम् महारुद्राभिषेक का आयोजन
सनातन सोशल ग्रुप द्वारा संत-महात्माओं के सानिध्य में शहर में पहली बार सत्यम्‌-शिवम्‌-सुंदरम् महारुद्राभिषेक का आयोजन मां कालिका माता मंदिर मेला प्रांगण में किया गया।कांचीपुरम के संत श्री आत्मानंद जी सरस्वती की उपस्थिति में 121 शिवलिंग को स्थापित कर 121 विद्वान पंडितों एवं 121 यजमान जोड़ों की सामुहिक उपस्थिति में महारुद्राभिषेक किया गया। अखण्डज्ञान आश्रम के संत स्वरुपानंद जी, संत देवरूप जी, संत श्री कृष्णानंद जी खाचरौद, गोरखपुर से आए आचार्य रामस्वरूप जी, शहर विधायक चेतन्य काश्यप भी मौजूद रहे। मुख्य यजमान प्रवीण मोहन लाल सोनी थे। कार्यक्रम स्थल पर विशेष आकर्षण 121 शिवलिंग दर्शन, 12 ज्योतिर्लिंग एवं एक दिव्य शिवलिंग के दर्शन भी भक्तों ने किए। साथ ही कार्यक्रम में आने वाले प्रत्येक धर्मानुरागी को दिव्य शिवलिंग पर जलाभिषेक का अवसर भी प्राप्त हुआ। इस दौरान सनातन सोशल ग्रुप के संयोजक मुन्नालाल शर्मा, अध्यक्ष अनिल पुरोहित, अनिल झालानी, शैलेंद्र डागा, प्रदीप उपाध्याय, पवन सोमानी, अशोक पोरवाल आदि बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

Admin

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.